4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|pros and cons

4 ps and 7 ps of marketing with Marketing Mix?

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|pros, and cons.
sahityatech.com

अभी कुछ दिनों की बात है मैने What is Marketing kya hai इस विषय पर एक ब्लॉग लिखा था | उस में मैंने 4 ps and 7 ps of marketing के बारे में तरह से बतया था |4 ps and 7 ps of marketing क्या है, क्या मतलब है और भी, पर मुझे लगा यह topic को अलग से भी post करते है और ज्यादा विस्तार पुर्वक इस को समझते है | क्युकी आज के इस युग में 4 ps and 7 ps of marketing का बहुत अधिक महत्त्व है |

अगर आप इस को अच्छे से जान गए तो आप अपने Marketing strategy को एक नई ऊंचाइयों तक ले जा सकते है | 

तो बिना देरी (समय गवाये) किये बढ़ते है | अपने ब्लॉग की तरफ 4 ps and 7 ps of marketing क्या है | कैसे काम करता है | 

Marketing Mix क्या है?

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|pros, and cons.

marketing mix सन 1950 में नील बोर्डन ने एक शब्द निकल कर आया marketing mix|उन्होंने marketing mix बतया|1960 के दशक में, जेरोम मैक्कार्थी ने 4 ps and 7 ps को बतया जो की marketing mix का एक हिंसा था|समय के साथ कई Ps को बताया गया 5Ps ,  8Ps , आदि| 

Marketing Mix की परिभाषा | 

कोई भी कंपनी जो अपने उत्पाद के लिए सही strategy खोजने का इरादा रखती है, उसे ऐसा  करने से पहले उसे कुछ marketing strategy पर ध्यान देना होगा|1. Product, 2. Price,  3. Place, 4. Promotion इन को ही 4 ps और marketing mix  कहा जाता है |

4 Ps marteting भी marteting mix के विचार की नींव हैं। 

नोट– आप को यह जरूर पड़ना चाहिए  

marketing के दो पहलू और है जिसे हम 4 Ps and 7 Ps के रूप में जानते है | 

4 ps of marketing|

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|2020|pros and cons.
sahityatech.com
  1. Product – आप क्या बेचना चाहते है यह तय करना  |
  2. Price – उस product या Service का price कितना होगा यह तय करना || 
  3. Place – आपके customer उस product या Service को कहाँ से खरीदेंगे यह तय करना |
  4. Promotion – कैसे आप अपने customer को product या Service के बारे में बताएगे (प्रचार करेंगे) यह तय करना |

आप इन चारो तत्त्व (element) को कितना अच्छे से यूज़ करते है | उस पर ही आपका व्यापर टिका है और आप की marketing | 4 ps and 7 ps|

1. Product

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|pros, and cons.

आप क्या बेचना चाहते है यह तय करना| 

आप सब से पहले यह तय करे आप को क्या बेचना है | क्या आप का product होने वाला है | किस तरह का वह product होगा | क्या customer को वह product पसंद आएगा भी या नहीं और भी | 

आपका product जितना ज्यादा customer को देख कर बनाया जायेगा बहुत अधिक chance है की वह product आपका उतना अच्छा विकेगा | 

product किसे कहते है?

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|2020|pros and cons.
sahityatech.com

Product का हिंदी मतलब उत्पादन, उत्पाद, माल, चीज़, वस्तु, पैदावार, आदि होता है।

Product बिक्री की जाने वाली कोई भी वस्तु हो सकती है, product Service या कोई भी ऐसी वस्तु जो आप न बिकने की उम्मीद से बनाया है, वह सब एक product है | product कोई सेवा हो सकती है |

वह video हो सकती है, कोई audio हो सकती है, कोई विचार भी हो सकता है, blog भी हो सकता है या कोई भी वह जो आप ने बिकने की उम्मीद से बनाया है, वह सब एक product है| 

Product की परिभाषा – देखे तो Product जिसे लोगों और कपंनीयों की आवयश्कता और इच्छाओं को समझते हुआ बाजार में उतारा जाये उसे हम Product कहता है | 

Marketing में, Product वह है जो आवयश्कता और इच्छाओं को पूरा कर सके फिर चाहे वह इच्छा या आवश्यकता किसी कपंनीयों की हो या फिर किसे भी ग्राहकों की | 

product|

product एक ऐसा आइटम है जो लोगों के एक निश्चित समूह की जरूरतों को पूरा करने के लिए बनाया या निर्मित किया जाता है।

product बनाने से पहले इन बातो पर जरूर ध्यान दे | 

  • ग्राहक क्या सेवा (Service) या उत्पाद (product) चाहता है?
  • ग्राहक सेवा (Service) या उत्पाद (product) का उपयोग किस प्रकार करेंगे?
  • ग्राहक सेवा (Service) या उत्पाद (product) का उपयोग कहा- कहा करेगा?
  • ग्राहक की जरूरतों को पूरा करने के लिए सेवा (Service) या उत्पाद (product) में क्या-क्या  विशेषताएं होनी आवश्यक है ?
  • आप ऐसी (product) या (Service) न बनाये जिस की आवश्यक ग्राहक को नहीं है|
  • (product) या (Service) का नाम क्या होने वाला है?
  • क्या यह एक ऐसा नाम है जो आमतोर पर सभी ने रखा है?
  • (product) या (Service) किस प्रकार से उपलब्ध होगी क्या आकार या रंग होने बाला हैं?
  • वह (product) या (Service) आपके प्रतियोगी से किस प्रकार भिन्न है?

4 ps and 7 ps में यह है 4 ps of marketing|

2. Price 

आप अपने product को कितना price में बेचना वाले है |

product का price तय करना कोई आसान काम नहीं है | product का पूरा खर्चा (product बनाने से लेकर पैकिंग और भी सब खर्चे) के बाद यह तय करना कितने का बिकेगा यह एक जटिल प्रक्रिया है | 

आपका product कितने का है और यह कितना का बिकेगा यह सब product की कीमत और बिक्री (sale) पर बहुत प्रभाव डालता है | 

आपको product की price तय करने के लिए सब से पहले या देखना होगा की | 

  • उस product को बने में कितना खर्चा हुआ | 
  • आप की रणनीति (Strategy) क्या है उस product को ले कर | 
  • आपके compititor (अगर कोई है) उस ने उस product की क्या price राखी है | 
  • आप के customer कौन है |
  • product सेल करने के लिए क्या Location है या कौन सा platfrom(offline या online)आप ने तय किया है उस प्रोडक्ट के लिए | 
  • आपके product के आगे के और खर्चे क्या-क्या और कितने होंगे(रखने का, स्टोर करने का, आगे सेल करने का और भी खर्चे)| 

इन सब Fact को ध्यान में रख कर आप अपने product और Service की price तय कर सकते है | 

4 ps and 7 ps में यह है 4 ps of marketing|

3. Place

आपके customer उस product या Service को कहाँ से खरीदेंगे यह तय करना | 

आप को यहाँ भी सोचना होगा की आप अपने product को कहा बनना वे बेकना कहते है | वह product city के लिए है या फिर Village के लिया या दोना ही | place का तय करना बहुत जरुरी है | 

आपको product की place तय करने के लिए सब से पहले या देखना होगा की | 

  •  वह product city के लिए है या फिर Village के लिया या दोना के लिए | 
  • city में बेकना है तो कहा बेकना है आस पास कैसी Location है | vip एरिया है या ऐसे ही | 
  • product बन कहा रहा है, और बेचना कहा है | 
  • उस विशेष स्थान पर कैसे customer ज्यादा आते है, या गुजरते है | अमीर या आम आदमी |
  • आप के product कहा बिकगे (offline या online) यह भी तय करना | 

इन सब को Fact को ध्यान में रख कर आप अपने place तय कर सकते है | 

4 ps and 7 ps में यह है 4 ps of marketing|

4. Promotion

कैसे आप अपने customer को product या Service के बारे में बताएगे (प्रचार करेंगे) यह तय करना |

आप अपने product को कैसे promote कर रहे है यह सब से अहम् है | चाहे आप का प्रोडक्ट कोई भी हो चाहे आप उस का कोई भी price रखे या कैसे भी place हो अगर आप न उस product या Service  को अच्छे से Promotion नहीं किया है तोआप का सब कुछ बेकार है | इस लिए Promotion को सब से महत्वपूर्ण माना गया है 

आपको अपने product को बेस्ट  Promotion के लिए यह सब से पहले या देखना होगा की | 

  • आप को अपना प्रोडक्ट कहा Promotion करना है (offline या online) | 
  • Traditional advertising करनी है (TV, Magzne, Newspaper या FM रेडियो से)| 
  • Digital advertising करनी है (PPC advertising, Social media, या SEO)
  • किसी free product या Service दे के करनी है | 

इन सब को Fact को ध्यान में रख कर आप product या Service को Promotion कैसे करना है यह तय कर सकते है | 

1981 में बूम एंड बिटनर (Boom and bitner) के द्वारा मार्केटिंग मिक्स (marketing mix) के निर्माण का नेतृत्व किया जिसने 4 Ps सिद्धांत में 3 और नए तत्व जोड़े। उन उत्पादों को शामिल करने की अनुमति दी, जो सेवाएं हैं और केवल भौतिक (physical) चीजें नहीं हैं।

4 ps and 7 ps में यह है 4 ps of marketing|

7 Ps of marketing| 

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|2020|pros and cons.
sahityatech.com
  1. people- हमरी कम्पनी के अंदर स्टाफ कौन सा है (सेल्स स्टाफ से मैनेजिंग डायरेक्टर तक) |  
  2. processes- आपकी कम्पनी का क्या processes उस product या Service के लिए | 
  3. Physical evidence- आप अपने customer को किस तरह का Environment दे रहे है | उस Particular price पर | 

नोट– इसे इस प्रकार भी देखा जा सकता है 5, 6, 7 |

1. people

हमरी कम्पनी के अंदर स्टाफ कौन सा है (सेल्स स्टाफ से मैनेजिंग डायरेक्टर तक)| 

सभी कंपनियां लोगो पर निर्भर होती है जैसे-सेल्स स्टाफ से मैनेजिंग डायरेक्टर और भी स्टाफ | कंपनी बहुत ज्यादा निर्भर करती है | वह का स्टाफ कैसा है | अच्छी तरह से तैयार है वहाँ का स्टाफ या ऐसे ही है | स्टाफ ग्राहक से कैसे बात करता है |

उदहारण – मान लीजिये आप किसी Restaurant(खाने की दुकान) में जाते है आप का पास वह पर काम करने वाला एक कर्मचारी अत है | और आप से बहुत अच्छे से बात करता है | आपकी नजर में उस Restaurant की इज्जत काफी बढ़ जाएगी |

वही आप ऐसे Restaurant में गए जो बहुत मशहूर है पर न तो कोई कर्मचारी ठीक से बात करता है न ही वह आप का पास आप के लाख बुलाने पर अत है | तो आप सोच सकते है | people हमरी कंपनी के लिए कितना impotant होते है |

यही है जो आप की कंपनी को एक ब्रांड बने में आप की मदद करते है |

4 ps and 7 ps में यह है 7 ps of marketing|

2. processes- 

आपकी कम्पनी का क्या processes उस product या Service के लिए | 

कोई भी Restaurant वाला कितनी देर में आप का ऑडर किया हुआ food ला कर देता है | अगर उस का कही और Restaurant है | अलग place या city में उस में भी क्या यह प्रक्रिया है इतना जल्दी मिल जाता है | और वह भी क्या उस खाने का टेस्ट वही है या अलग है |

इसे कहते है processes और एक सफल markating करने के लिए आप को यह follow करना होगा | 

4 ps and 7 ps में यह है 7 ps of marketing|

3. Physical evidence

आप अपने customer को किस तरह का Environment दे रहे है | उस Particular price पर| 

Physical evidence online 

यहाँ बात ऑनलाइन भी लागु होती है जैसे आप से कोई प्रोडक्ट सेल किया जिस को सेल किया वह यह सोचेगा की यह Particular चीज ऐसे होगी ऐसे पैकिंग होगी | और आप उसे बेकार सी पैकिंग में देता है तो वह product अंदर से किस प्रकार का होगा वह यह अनुमान लगता है और सोचता है इतना रू में एक क्या मिला | वही अगर कोई और कम्पनी की पैकिंग अच्छी है | product अच्छा है तो वह customer मुमकिन है वह प्रोडक्ट ला जो उसे अच्छी पैकिंग और अच्छा प्रोडक्ट मिल रहा हो | 

Physical evidence offline 

ofline की बात करे तो कोई भी customer जब एक price देता है तो वह यह जरूर सोचता है की उसे वह product ऐसा मिलेगा | मुझे Service वैसी मिलेगी | 

उद्धरण- अगर आप एक 5 star होटल में गए और वहाँ न खाना अच्छा न ही वह देखने में अच्छा आप सोचोगे क्या है ये | वही आप एक छोटे से होटल में गए वह का खाना बहुत अच्छा और Matrix एक डैम A ONE बैठने का स्थान (Sitting area) एक दम मस्त हो आप कहा ज्यादा अच्छा लगेगा इसे को Physical evidence कहते है | 

4 ps and 7 ps में यह है 7 ps of marketing|

pros?

अगर आप इन सभी स्टेप को सही से follow करोगे तो आप के लिए यह एक pros है | 

cons?

इन सभी स्टेप को follow नहीं करते तो यह मार्केटिंग cons के रूप में मिलेगी | 

निष्कर्ष| 

आप इन सभी स्टाप को जीता अच्छे से फॉलो करोगे आप उठना ही अच्छा मार्केटिंग or 4 ps and 7 ps को जान पाओगे | 

मुझे आशा है आप को 4 ps and 7 ps of marketing क्या है  पता चल गया होगा | 4 ps and 7 ps और Marketing Mix क्या है यह भी जान गए होंगे | 4 ps and 7 ps के बारे में पढ़ कर कैसा लगा आप को और किसी विषय पर ब्लॉग चाहिए आप Comment कर हमें बता सकते है 4 ps and 7 ps of marketing|

4 ps and 7 ps में से आप को कौन सी marketing अच्छी लगी 4 ps and 7 ps of marketing 

4 ps and 7 ps of marketing|in Hindi|pros, and cons.

नोट– आप को यह जरूर पड़ना चाहिए  

Thnaks

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

4 ps of marketing क्या है?

1. Product – आप क्या बेचना चाहते है यह तय करना |
2. Price – उस product या Service का price कितना होगा यह तय करना || 
3. Place – आपके customer उस product या Service को कहाँ से खरीदेंगे यह तय करना |
4. Promotion – कैसे आप अपने customer को product या Service के बारे में बताएगे यह तय करना |

7 ps of marketing क्या है?

5. people– हमरी कम्पनी के अंदर स्टाफ कौन सा है (सेल्स स्टाफ से मैनेजिंग डायरेक्टर तक) | 
6. processes– आपकी कम्पनी का क्या processes उस product या Service के लिए | 
7. Physical evidence– आप अपने customer को किस तरह का Environment दे रहे है | उस Particular price पर|

Marketing Mix क्या है?

कोई भी कंपनी जो अपने उत्पाद के लिए सही strategy खोजने का इरादा रखती है, उसे ऐसा  करने से पहले उसे कुछ marketing strategy पर ध्यान देना होगा|1. Product, 2. Price,  3. Place, 4. Promotion इन को ही 4 ps और marketing mix  कहा जाता है |
4 Ps marteting भी marteting mix के विचार की नींव हैं। 

4 ps and 7 ps of marketing?

1. Product – आप क्या बेचना चाहते है यह तय करना |
2. Price – उस product या Service का price कितना होगा यह तय करना || 
3. Place – आपके customer उस product या Service को कहाँ से खरीदेंगे यह तय करना |
4. Promotion – कैसे आप अपने customer को product या Service के बारे में बताएगे यह तय करना |5. people– हमरी कम्पनी के अंदर स्टाफ कौन सा है (सेल्स स्टाफ से मैनेजिंग डायरेक्टर तक) | 
6. processes– आपकी कम्पनी का क्या processes उस product या Service के लिए | 
7. Physical evidence– आप अपने customer को किस तरह का Environment दे रहे है | उस Particular price पर|

4ps marketing का आविष्कार किसने किया?

जेरोम मैकार्थी
जेरोम मैकार्थी ने 1960 के दशक में मार्केटिंग 4P बनाई थी। 
इस वर्गीकरण का उपयोग दुनिया भर में किया गया है।

sahityagaur

Hi I,m Sahitya Gaur. I love tech and fashion. Professional digital marketing and content creator, YouTuber also.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: